Saturday, June 18, 2011

मानसी शर्मा 2011

8 comments:

  1. आप वरिष्ठ बाल साहित्यकार : मेरे मित्र श्री दीनदयाल शर्मा की बिटिया हो , यह जानकर बहुत ख़ुशी हुयी , हम लोग कई बार-कई यात्राओं में साथ रहे हैं- कभी गंगा सागर तो कभी राष्ट्रपति भवन .
    आप अपने पापा से भी ज्यादा नाम कमाकर उनका , हम सबका नाम रोशन करो , यही आशीर्वाद है . बधाई .

    --
    नीले आसमान पर छा

    ReplyDelete
  2. Gazab face expression are so good. she is know very well in dance.

    web hosting india

    ReplyDelete